Urdu shayri (ghazal)

अल्लाह करें तेरे दिल पर लिखा नाम हमारा हो
तेरे लबों को जो मुस्कान दे वो काम हमारा हो 

 इश्क की गलियों में जब भी तेरे दिल की हो नीलामी
बोली   में   लगा   सबसे   ऊंचा   दाम   हमारा   हो

कोशिश  पूरी  करेंगे  हम  इश्क  की  राह में जीतने की
उम्मीद है कि जीत के बाद तेरा दिल ईनाम हमारा हो  

हाल यूं है कि सारी दुनिया भुला दी हमने तेरे लिए
जेसे  तुम  से   मोहब्बत   ही   काम  हमारा  हो

  दिल   ने  ‌तुम्हें   दर्जा  रब   का  दें दिया   है
अब तो इश्क ही तेरा काबा और चारों धाम हमारा हो